गंगा का पर्यायवाची शब्द | Ganga Ka Paryayvachi Shabd in Hindi

गंगा का पर्यायवाची शब्द क्या होता है (ganga ka paryayvachi shabd kya hoga) इस पेज पर जानेंगे। तथा उन शब्दों का वास्तविक अर्थ क्या होता है उन शब्दों का प्रयोग कहाँ किया गया है अथवा किया जाता है यह सब भी जानने वाले है।

Ganga ka Paryayvachi Shabd in Hindiगंगा का पर्यायवाची शब्द क्या होता है ?

गंगा का पर्यायवाची शब्द – सुरसरिता, देवपगा, ध्रुवनंदा, विष्णुपदी, भागीरथी, देवनदी, अमरतरंगिनी, मन्दाकिनी, देवनदी, त्रिपथगा, जाह्नवी, नदीश्वरी।

ganga ka paryayvachi shabd kya hota ai – Tripathga, Bhagirathi, Vishnupaga, Surasarita, Devanadi, Mandakini, Jahnavi, Nadiswari, Devapaga, Dhruvananda, Vishnupadi, Surasari, Devanadi, Amaratrangini .

Ganga Ka Paryayvachi Shabd
Ganga Ka Paryayvachi Shabd

गंगा का पर्यायवाची शब्द (Ganga Shabd Ka Paryayvachi) जितने भी होते हैं आपने जान लिया अब चलिए जान लेते हैं कुछ पर्यायवाची शब्दों का वाक्यों में प्रयोग कैसे होता है –

गंगा के पर्यायवाची शब्द (Ganga Ke Paryayvachi) का वाक्य प्रयोग –

गंगा (Ganga) – गंगा नदी सनातन धर्म की एक पूजनीय नदी है जिसे सनातन धर्म में बहुत ही पवित्र माना गया है हिंदू मान्यताओं के अनुसार इस नदी में स्नान करने से सारे पाप मिट जाते हैं।

भागीरथी (Bhagirathi) – गंगा को भागीरथी के नाम से भी जाना जाता है क्योंकि भागीरथी नहीं तपस्या करके गंगा को स्वर्ग से पृथ्वी पर लाए थे।

देवनदी (Devanadi) – गंगा नदी का जल इतना अधिक पवित्र है कि देवता भी इस नदी के जल में स्नान करने पर उनके पाप भी धूल जाते हैं और वे पाप मुक्त हो जाते हैं।

मन्दाकिनी (Mandakini) – गंगा नदी को स्वर्ग लोक में मंदाकिनी के नाम से भी जाना जाता है।

उम्मीद करते है की गंगा के पर्यायवाची शब्द (Synonyms of Ganga in Hindi) का यह पोस्ट आपको अवश्य पसंद आया होगा तथा इसे अपने दोस्तों के साथ अवश्य साझा करे।

1000 + पर्यायवाची शब्द लिस्ट को पढ़ने अथवा डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करे।

पर्यायवाची शब्द किसे कहते हैं परिभाषा जानने के लिए यहां क्लिक करें

अन्य पर्यायवाची शब्द भी पढ़े –

पूछे जाने वाले प्रश्न

गंगा शब्द का क्या अर्थ है ?

गंगा शब्द से अर्थ है की यह एक हिन्दू ग्रंथो के अनुसार एक बहुत पवित्र नदी है जिसका उद्गम हिमालय से होता है गंगा को देव नदी इस लिए कहते है की गंगा के जल से स्नान करने पर सारे पाप मिट जाते है। गंगा शिव जी के जटा में वास करती है।

गंगा नदी की खासबात क्या है ?

गंगा नदी की जो सबसे अद्भुत बात है वह यह की गंगा के जल को किसी भी बर्तन में लेकर रख दिया जाये तो उसके कीटाणु नहीं जन्म लेते है।

Leave a Comment