धनतेरस पर असली सोने की पहचान कैसे करें ?

असली सोने की पहचान कैसे करें धनतेरस पर सोना खरीदने से पहले पीतल की पहचान सोने की पहचान कैसे की जाती है असली सोने की पहचान कैसे करें सोने और पीतल के बीच में क्या अंतर होता है।

धनतेरस का अवसर हो और लोग shopping न करें ये कैसे हो सकता है! धनतेरस पर सोना खरीदना शुभ माना जाता है! ऐसा कहा जाता है कि मां लक्ष्मी भी धनतेरस के मौके पर खरीदे गए gold पर अपनी विशेष कृपा रखती हैं!

असली सोने की पहचान कैसे करें सोने की पहचान घर पर कैसे करे सोने की पहचान कैसे की जाती है सोने और पीतल के बीच का अंतर सोना शुद्धता परीक्षण मशीन सोना पहचानने के तरीके सोना परखने वाला पत्थर का नाम सोना गलाने की विधि सोना खरीदने से पहले पीतल की पहचान पीतल और सोने की पहचान गोल्ड की पहचान कैसे करें खाद्य रसद विभाग राशन कार्ड सूची असली चांदी की पहचान sone me milawat sone ki pehchan kaise kare in hindi sona parakhne wala pathar ka naam

अगर आप भी इस धनतेरस पर sona kharidne करने जा रही/रहें हैं तो इन बातों का जरूर ख्याल रखें! Festival के सीजन में सोने की भारी मांग होती है और इसी दौरान आप नकली सोना खरीदकर ठगी के शिकार भी हो सकते हैं!

असली सोने की पहचान कैसे करें – सबसे अहम् बात तो यही है कि आपको हमेशा HALLMARK वाला सोना खरीदना चाहिए! आपको बता दें कि सोने में इन दिनों सिल्वर, COPPER और जिंक की भारी मिलावट की कई घटनाएं सामने आई हैं!

सोना सिर्फ धनतेरस के लिए ही शुभ नहीं होता बल्कि FUTURE के लिए भी एक बेहतर INVESTMENT माना जाता है! ऐसे में अगर आप नकली सोने के शिकार हो जाते हैं तो आपकी INVESTMENT को भी भारी LOSS हो जाता है!

गाहरवारजी.कॉम के अनुसार आज हम आपको बता रहे है कि छोटी-छोटी tricks के जरिये आप खुद असली सोने की पहचान कैसे करें …

असली सोने की पहचान कैसे करें

सोने की पहचान घर पर कैसे करे सोने की पहचान कैसे की जाती है सोने और पीतल के बीच का अंतर सोना शुद्धता परीक्षण मशीन सोना पहचानने के तरीके सोना परखने वाला पत्थर का नाम सोना गलाने की विधि सोना खरीदने से पहले पीतल की पहचान पीतल और सोने की पहचान गोल्ड की पहचान कैसे करें खाद्य रसद विभाग राशन कार्ड सूची असली चांदी की पहचान sone me milawat sone ki pehchan kaise kare in hindi sona parakhne wala pathar ka naam

यदि तुरंत जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो निचे दिए गए लिंक्स पर क्लिक करे। show

सोना खरीदने से पहले आवश्यक बातें – असली सोने की पहचान कैसे करें ?

🔴1) शुद्धता का ख्याल रखें

GOLD JEWELERY या सिक्के खरीदते TIME सबसे पहले उसकी शुद्धता का पता लगाना चाहिए! 24 CARET GOLD सबसे शुद्ध होता है, लेकिन इससे JEWELERY नहीं बनाई जा सकती!

GOLD JEWELERY 22 या 18 CARET के सोने से बनाई जाती है, यानी 22 CARET GOLD के साथ 2 CARET कोई और METAL MIX किया जाता है! JEWELERY खरीदने से पहले हमेशा जूलर से सोने की शुद्धता जान लें!

🔴2) TRADEMARK की जांच करें

GOLD JEWELERY में हमेशा TRADEMARK होता है! JEWELERY खरीदने से पहले TRADEMARK की पहचान कर लें! इससे आपको MANUFACTURER की पहचान का पता चल सकता है!

🔴3) जेम STONE की शुद्धता भी जांचें

अगर आप डायमंड, रूबी या किसी और जेम STONE (कीमती पत्थर) वाले सोने के गहने खरीद रहे हैं, तो उनकी शुद्धता भी जरूर जांचे!

जब आप इन STONE के लिए भी पूरे पैसे चुकाते हैं, तो GOLD के साथ जेम STONE की QUALITY का भी ध्यान रखना चाहिए!

🔴4) मिक्सिंग के बारे में जानना भी जरूरी

अगर आप वाइट GOLD की JEWELERY ले रहे हैं तो निकेल या प्लैटिनम MIX के बजाय पैलेडियम milavati gahane लेना बेहतर होगा!

निकेल या प्लैटिनम milavati वाइट GOLD से स्किन एलर्जी होने का खतरा रहता है!

🔴5) प्योरिटी सर्टिफिकेट लेना न भूलें

GOLD JEWELERY खरीदते TIME आप ऑथेंटिसिटी/प्योरिटी सर्टिफिकेट लेना न भूलें! सर्टिफिकेट में GOLD की CARET QUALITY भी जरूर CHECK कर लें!

इसके साथ ही GOLD JEWELERY में लगे जेम STONE के लिए भी एक अलग सर्टिफिकेट लेना जरूरी है!

यह भी पढ़े👉ऑनलाइन टाइपिंग करके कमाये हजारो रूपए महीने।

सोने की पहचान कैसे की जाती है

इन गलतियों से बचें
असली सोने की पहचान कैसे करें – GOLD खरीदने की खुशी और उत्साह में अक्सर हम कुछ छोटी-छोटी गलतियां कर देते हैं और बाद में पछताते रहते हैं! To आइए जानें इन गलतियों को ताकि सही time पर इनसे बचा जा सके !

असली सोने की पहचान कैसे करें सोने की पहचान घर पर कैसे करे सोने की पहचान कैसे की जाती है सोने और पीतल के बीच का अंतर सोना शुद्धता परीक्षण मशीन सोना पहचानने के तरीके सोना परखने वाला पत्थर का नाम सोना गलाने की विधि सोना खरीदने से पहले पीतल की पहचान पीतल और सोने की पहचान गोल्ड की पहचान कैसे करें खाद्य रसद विभाग राशन कार्ड सूची असली चांदी की पहचान sone me milawat sone ki pehchan kaise kare in hindi sona parakhne wala pathar ka naam

🔴1) सोने के सिक्के गलत TIME पर खरीदना

सिक्के खरीदने के पीछे आपका मकसद सीधे तौर पर INVESTMENT का होता है, इसलिए सिक्कों की खरीद का फैसला करते TIME जोश के बजाय RETURN की संभावनाओं पर ध्यान रखना चाहिए!

इसके लिए जरूरी है कि सोने की PRICE के टर्म साइकल के निचले हिस्से में आने का इंतजार किया जाए!

🔴2) GOLD की खरीद पर बहुत ज्यादा खर्च

GOLD खरीदते हुए यह याद रखना बहुत जरूरी है कि यह कोई डिविडेंड या लगातार कैश देने वाला एसेट नहीं है, यानी इस पर इन्वेस्ट किए गए पैसों से कोई रेग्युलर इनकम नहीं होगी!

ऐसे में कुल INVESTMENT का सिर्फ 5 फीसदी ही GOLD पर खर्च करना सही है!

🔴3) गलत जगह से खरीदारी करना

किसी भी नए INVESTOR के लिए यह सबसे सामान्य गलती है! अगर आपको मालूम नहीं है कि कॉमन बुलियन सिक्के कैसे दिखते हैं, तो इस बात की पूरी आशंका रहेगी कि आप बहुत ज्यादा खर्च करके भी नकली सिक्का खरीद लेंगे!

इसलिए सिक्के हमेशा विश्वसनीय दुकानों से और JEWELERY हमेशा HALLMARK निशान वाली ही खरीदें! छोटे जूलरों के पास HALLMARK JEWELERY नहीं होती! ऐसे में वहां धोखा होने का maximum डर होगा!

🔴4) जरूरत पर फोकस न होना

अगर आप INVESTMENT के लिहाज से GOLD खरीदने की सोच रहे हैं, तो अपनी जरूरत पर फोकस करें!

पहले MARKET को समझें और अपने INVESTMENT प्लान पर टिके रहें! कई बार लोग friends और रिश्तेदारों को इम्प्रेस करने के लिए भी सोने की खरीदारी कर लेते हैं, जिससे जेब पर जबरन और फालतू बोझ पड़ता है!

🔴5) GOLD के स्पॉट PRICE की जानकारी न होना

कई बार CONSUMER GOLD का MARKET PRICE जाने बगैर खरीदारी कर लेते हैं! ऐसा कभी न करें!

इससे आपके पैसे भी ज्यादा खर्च होने की आशंका होगी और आपको सही VALUE भी नहीं मिल पाएगी!

🔴6) सिल्वर को नकारना

जब सोने की PRICE बहुत ज्यादा हो, तो चांदी के सिक्के खरीदना ज्यादा समझदारी है! चांदी की कीमतें भी लगातार बढ़ रही हैं और खरीद के कुछ TIME बाद चांदी अक्सर अच्छा RETURN देती है!

यह भी पढ़े👉15 ऐसे ब्यापार जिन्हें घर के छोटे रूम से शुरू करके लाखो महीने कमाया जा सकता है काम लागत में।

असली सोने की पहचान कैसे करें सोने की पहचान घर पर कैसे करे सोने की पहचान कैसे की जाती है सोने और पीतल के बीच का अंतर सोना शुद्धता परीक्षण मशीन सोना पहचानने के तरीके सोना परखने वाला पत्थर का नाम सोना गलाने की विधि सोना खरीदने से पहले पीतल की पहचान पीतल और सोने की पहचान गोल्ड की पहचान कैसे करें खाद्य रसद विभाग राशन कार्ड सूची असली चांदी की पहचान sone me milawat sone ki pehchan kaise kare in hindi sona parakhne wala pathar ka naam

कैसे पहचानें सोने की हॉलमार्क – असली सोने की पहचान कैसे करें

असली सोने की पहचान कैसे करें – जो JEWELERY HALLMARK होगी, उस पर पांच तरह के निशान जरूर होंगे! ये हैं-
🔴1) बीआईएस का लोगो !
🔴2) सोने की शुद्धता बताने वाला नंबर! सोने की शुद्धता अंकों में लिखी होती है! सभी CARET की HALLMARKING अलग होती है! वैसे, 22 CARET की JEWELERY सबसे अच्छी मानी जाती है!

इसमें 92 फीसदी सोना होता है! इसे इस तरह देखा जा सकता है!
🔴3) जांच-पड़ताल व HALLMARKING करने वाली एजेंसी का लोगो !
🔴4) जूलर का लोगो !
🔴5) HALLMARKING किए जाने का साल! HALLMARKING होने का साल अंग्रेजी अल्फाबेट के आधार पर होता है! HALLMARKING की शुरुआत 2000 में हुई इसलिए 2000 में HALLMARK की गई JEWELERY पर A लिखा गया!

इसी आधार पर इस साल यानी 2012 में जिस JEWELERY की HALLMARKING हुई होगी, उस पर M लिखा होगा!

HALLMARK JEWELERY लेने का फायदा
असली सोने की पहचान कैसे करें – HALLMARK JEWELERY भले ही पहली नजर में महंगी लगे, लेकिन इसे लेना हमेशा फायदे का सौदा होता है!

HALLMARK JEWELERY के कैरेट आप कहीं भी कैरेट मीटर से CHECK करा सकते हैं, जबकि बिना HALLMARK JEWELERY की शुद्धता का पता उस JEWELERY को गला कर ही लगाया जा सकता है!

कहां से खरीदें HALLMARK JEWELERY
असली सोने की पहचान कैसे करें – देश के ज्यादातर JEWELERS के पास HALLMARK JEWELERY उपलब्ध है, लेकिन कम PROFIT होने की वजह से वे इसे कस्टमर को नहीं बेचना चाहते!

HALLMARK JEWELERY को आम JEWELERS के अलावा भारत सरकार की एजेंसी MMTC से भी खरीदा जा सकता है! ये morning 10 बजे से evening 5 बजे तक खुलते हैं! रविवार को बंद रहते हैं!

Adress-
MMTC, एफ 8-11, फ्लैटेड फैक्ट्री कॉम्प्लेक्स, रानी झांसी रोड, झंडेवालान, नई दिल्ली, फोन : 011-2362 3950
MMTC, कोर वन, स्कोप कॉम्प्लेक्स, 7 इंस्टिट्यूशनल एरिया, लोदी रोड, नई दिल्ली, फोन : 011-2436 2200

बिल लेना न भूलें

असली सोने की पहचान कैसे करें – HALLMARK JEWELERY का भी बिल जरूर लें! बिल में PRICE, WEIGHT के अलावा GOLD की शुद्धता भी लिखी होनी चाहिए! Jeweler के साथ कोई विवाद होने की स्थिति में यह बिल काम आता है!

सोने की टेस्टिंग
असली सोने की पहचान कैसे करें – JEWELERY पर HALLMARK देखने के बाद भी सोने की जांच करना सही रहता है! इससे सोने की शुद्धता CHECK हो जाती है और खर्च भी ज्यादा नहीं आता!

असली सोने की पहचान करने के तरीके हैं! – असली सोने की पहचान कैसे करें | asali sone ki pahchan kya hai

🔴 फर्नेस से जांच
यह जांच किसी जूलर के यहां या सोने की जांच के तमाम CENTERपर कराई जा सकती है! HALLMARK CENTERमें भी इसकी व्यवस्था है!

🔴 एक्सआरएफ मशीन से
एक्सआरएफ यानी एक्स-रे फ्लोरेसेंस मशीन MMTC केंद्रों, सरकार से मान्यता प्राप्त CENTERऔर HALLMARK CENTERपर होती है!

Machine के अंदर सोने या उससे बने किसी प्रॉडक्ट को रखकर उसे थोड़ा गर्म करके यह पता लगाया जाता है कि वह कितना शुद्ध है! इसे फायर एसे METHOD भी कहा जाता है! Other countrys में सोने की परख इसी तरीके से की जाती है!

खास बात यह है कि यह काफी Cheapest तरीका है! इसमें एक प्रॉडक्ट की जांच के 18 से 50 रुपये ही लगते हैं! साथ में शुद्धता की रसीद भी मिलती है!

MMTC के डायरेक्टर (मार्केटिंग) वेदप्रकाश का कहना है, ‘MMTC CENTER में सोने की शुद्धता जांचने के खास इंतजाम किए गए हैं! जो Customer शादी-ब्याह के लिए सोना या जेवर खरीदते हैं, उनके लिए यह जांच बहुत उपयोगी है!

जांच के लिए यहां संपर्क कर सकते हैं : MMTC HALLMARKING सेंटर, एफ 8-11, फ्लैटेड फैक्ट्रीज कॉम्प्लेक्स, झंडेवालान, नई दिल्ली- 110055 !

सोना परखने वाला पत्थर का नाम

🔴स्क्रैच METHOD
यह सोने की जांच का सबसे easy तरीका है! इसमें Jeweler एक खास तरह के पत्थर पर सोने को रगड़ता है और उस पर उभरे रंग के आधार पर सोने की शुद्धता का फैसला करता है! इस पत्थर को कसौटी कहते हैं!

🔴HALLMARKING सेंटर
यहां हम दिल्ली के कुछ centers के नाम व पते दे रहे हैं! पूरी लिस्ट http://www.bis.org.in/cert/hallmarkass.htm पर देखी जा सकती है!
शिवम एसेइंग एंड HALLMARKING सेंटर, BANK स्ट्रीट, करोल बाग, नई दिल्ली!
जालान HALLMARKING सेंटर, लाजपतनगर सेंट्रल MARKET, नई दिल्ली!
स्तुति HALLMARKING सेंटर, नेताजी सुभाष पैलेस, पीतमपुरा, नई दिल्ली!
स्तुति लैब, कूचामहाजनी, चांदनी चौक, दिल्ली!

🔴क्या कहता है कानून
नकली सोना sell करने के मामले में IPC की धारा 420 (धोखाधड़ी) के तहत मामला दर्ज किया जाता है! मामला साबित हो जाने पर अधिकतम 7 years की जेल हो सकती है!

🔴हेल्पलाइन
आज बाजार में HALLMARKING के नाम पर धोखाधड़ी भी हो रही है! नकली HALLMARK के अलावा आधा-अधूरा HALLMARK लगाकर भी JEWELERY SELL जा रही है!

अगर कभी GOLD JEWELERY में HALLMARKING के नाम पर आपके साथ धोखा हो या HALLMARK JEWELERY पर शक हो, तो इसकी शिकायत बीआईएस को इस पते पर जरूर करें :

महानिदेशक, भारतीय मानक ब्यूरो (BIS), मानक भवन, 9, बहादुरशाह जफर मार्ग, नई दिल्ली-110002
फोन : 011-2323 7991/ 2323 6980/ 2323 4223, email : dg@bis.org.in

🔴सोने की क्या है कैरट

असली सोने की पहचान कैसे करें – CARET के मायने GOLD और डायमंड के लिए अलग-अलग होते हैं! डायमंड के लिए CARET का मतलब उसके WEIGHT से होता है! एक CARET 200 मिलीग्राम या 0.200 ग्राम के बराबर होता है!

24 CARET GOLD बिल्कुल प्योर होता है! GOLD में CARET से उसकी शुद्धता का पता चलता है! 100 फीसदी प्योर GOLD से JEWELERY नहीं बनाई जा सकती, इसलिए इसमें सिल्वर, पैलेडियम, प्लैटिनम, निकेल और यहां तक कि ‘FILLER METAL’ के तौर पर COPPER भी मिलाया जाता है!

GOLD में जब ‘FILLER METAL’ के तौर पर सिल्वर, प्लैटिनम या पैलेडियम मिलाया जाता है तो उसे ‘वाइट GOLD’ कहते हैं! हालांकि जब GOLD में COPPER मिलाया जाता है, तो उसकी मजबूती बढ़ जाती है और इससे GOLD को हल्की लालिमा भी मिलती है!

अगर कोई GOLD 22 CARET का है, तो इसका मतलब है, उसमें 2 CARET ‘FILLER METAL’ मिलाया गया है! इसी तरह 16 CARET के GOLD में 8 CARET कोई और METAL मिलाया जाता है!

सोना शुद्धता परीक्षण मशीन

सोने की पहचान करने की ट्रिक

🔴असली सोने की पहचान कैसे करें – HALLMARK देखकर खरीदें! इसके अलावा मैगनेट (MAGNET) को सोने के आभूषण के पास ले जाएं! अगर वो MAGNET की तरफ आकर्षित होता है तो सोना मिलावटी है!
सोने और पीतल के बीच का अंतर

🔴असली सोने की पहचान कैसे करें – अगर सोने का आभूषण पहनने के बाद स्किन color में बदलाव आ रहा है तो भी सोना मिलावटी है! इसके अलावा पसीने के संपर्क में आने पर अगर सोना भी smale करने लगता है तो वो मिलावटी है!

🔴असली सोने की पहचान कैसे करें – माथे पर थोड़ा सा फाउंडेशन लगाएं और अपना sone का आभूषण उसी जगह पर थोड़ा सा घिस कर देखें! अगर काली लकीरें बनती हैं तो sona मिलावटी है!

🔴असली सोने की पहचान कैसे करें – सोने के color से भी आप उसकी गुणवत्ता का पता लगा सकते हैं! 22 कैरेट का सोना ब्राईट yellow होता है जबकि 18 कैरेट वाला थोड़ा गाढ़ा पीला होने लगता है जबकि मिलावटी सोने का संग और भी गहरा होता है!

🔴असली सोने की पहचान कैसे करें – अगर आप 22 caret सोना खरीदने जा रहे हें तो उसे दांत से कांट कर देखें! अगर निशान बन जाता है तो वो pure Sona है क्योंकि sona जितना शुद्ध होता है उतना मुलायम होता जाता है!

18 caret वाला सोना या मिलावटी सोना हमेशा सख्त होता है और उस पर निशान नहीं बनता!

🔴असली सोने की पहचान कैसे करें – 1 cup में पानी लें और अपना सोने का आभूषण उसमें डाल दें! अगर sona पानी में तैर रहा है तो वो मिलावटी है! असली sona पानी के तल में बैठ जाता है और उसमें कभी जंग भी नहीं लगता! अगर आपका sona kala पड़ रहा है तो ये मिलावटी है!

🔴 असली सोने की पहचान कैसे करें – GOLD पर छोटा सा स्क्रेच मार्क करें और नाइट्रिक ACID की कुछ बूंदे डालिए! अगर sona वहां से थोड़ा हरा दिखाई देता है तो वो 100 प्रतिशत नकली या मिलावटी है!

🔴असली सोने की पहचान कैसे करें – अनग्लेज्ड सिरेमिक plate पर अपने सोने के आभूषण को रखकर थोड़ा सा दबाव डालें! अगर plate पर काला निशान बनता है तो ये नकली है! असली सोना हमेशा GOLDन कलर की धारी बनाएगा!

ऐसे पहचानें असली HALLMARK

🔴 मैग्नेट टेस्ट विश्वसनीय तरीका
जब भी आप सोना खरीदने जाए, अपने साथ स्ट्रॉंग MAGNET लेकर जाएं ! याद रखें कि असली सोना कभी भी MAGNET पर चिपकता नहीं है और अगर सोना थोड़ा-सा भी MAGNET के प्रति आकर्षित हो तो समझ जाएं कि कोई दिक्कत है और इसेखरीदने से बचें!

पीतल और सोने की पहचान | Asli gold ki pehchan kaise kare 

🔴 पसीने के संपर्क में आने पर अगर sona सिक्के की तरह दुर्गंध दे इसका मतलब उसमें मिलावट है! असली सोना गंध नहीं देता?

🔴 22 caret का सोना ब्राइट येलो होता है, जबकि 18 कैरेट का स्ट्रांग येलो और 18 कैरेट से कम का लाइट येलो होता है!
🔴  नकली sone पर काले या हरे धब्बे भी दिख सकते हैं!
🔴 असली सोना में कभी जंग नहीं लगता!

सोने की पहचान घर पर कैसे करे सोने की पहचान कैसे की जाती है सोने और पीतल के बीच का अंतर सोना शुद्धता परीक्षण मशीन सोना पहचानने के तरीके सोना परखने वाला पत्थर का नाम सोना गलाने की विधि सोना खरीदने से पहले पीतल की पहचान पीतल और सोने की पहचान गोल्ड की पहचान कैसे करें खाद्य रसद विभाग राशन कार्ड सूची असली चांदी की पहचान sone me milawat sone ki pehchan kaise kare in hindi sona parakhne wala pathar ka naam

 

GOLD में इन्वेस्टमेंट

GOLD में INVESTMENT के कई विकल्प हैं! लेकिन किसी भी विकल्प को choose करने से पहले आपको अपनी जरूरतों और बजट पर गौर करना चाहिए…

🔴1) फिजिकल गोल्ड
यह INVESTMENT दो तरह से हो सकता है – पहला, JEWELERY खरीद कर और दूसरा सिक्के या बार खरीद कर! आप क्या खरीदना चाहते हैं, यह इस बात पर निर्भर करेगा कि आपके INVESTMENT का मकसद और अवधि क्या है?

JEWELERS से सोने की JEWELERY खरीदना GOLD INVESTMENT का सबसे ट्रडिशनल और आसान तरीका है! Lekin ऐसा आपको सिर्फ तभी करना चाहिए, जब आप उसे इस्तेमाल करना चाहते हों और बहुत लंबे समय के लिए अपने पास रखना चाहते हों!

यह भी ध्यान रखें कि JEWELERY खरीदने पर भारी-भरकम मेकिंग CHARGE लगता है! ऐसे में अगर आप 100 फीसदी INVESTMENT के लिहाज से JEWELERY खरीदते हैं, तो यह आपके RETURN को प्रभावित कर सकता है!

अगर आप बार या सिक्के खरीदना चाहते हैं तो JEWELERS ऑप्शन हो सकते हैं! इसकी दो वजहें हैं – पहला, बैंकों के मुकाबले JEWELERS के CHARGE कम होते हैं!

और दूसरा यह कि अभी तक BANK सिर्फ GOLD बेचते हैं, उसे CONSUMER से बायबैक नहीं करते! लेकिन शुद्धता और विश्वसनीयता के लिहाज से BANK, सरकारी कंपनी MMTC या बड़े JEWELERS से इनकी खरीद करना ही बेहतर है!

🔴2) GOLD ईटीएफ
असली सोने की पहचान कैसे करें – ये म्यूचुअल फंड स्कीम हैं, जो सिर्फ GOLD में ही इन्वेस्ट करते हैं! ऐसे में लंबे TIME तक GOLD होल्ड करने और लिक्विडिटी के लिहाज से यह बेहतर ऑप्शन है!

इसमें आपके पास GOLD फिजिकल के बजाय इलेक्ट्रॉनिक फॉर्म में होता है! आपके पास INVESTMENT के पेपर होते हैं, जिनसे आप चाहें तो INVESTMENT की VALUE के बराबर GOLD बेचकर मौजूदा भाव पर PROFIT कमा सकते हैं!

सामान्य तौर पर GOLD ETF की एक यूनिट एक ग्राम GOLD के बराबर होती है और इस स्कीम के तहत आपको कम-से-कम 1 यूनिट GOLD ETF खरीदना होता है! हाल में ऐसी फंड ऑफ FUNDS स्कीम भी लॉन्च हुई हैं, जो GOLD ETF में INVEST करती हैं !

लेकिन ये ETF से कुछ मायनों में अलग हैं! इनमें INVESTMENT का फायदा यह है कि इनके लिए डीमैट अकाउंट की जरूरत नहीं होती! साथ ही इसमें एसआईपी की भी सुविधा है, जो ETF में मुमकिन नहीं है !

🔴3) इक्विटी बेस्ड GOLD फंड्स
असली सोने की पहचान कैसे करें – ये भी म्यूचुअल फंड स्कीम हैं, जो सीधे GOLD में INVEST करने के बजाय उन कंपनियों के शेयरों में INVEST करते हैं, जो GOLD बिजनेस, जैसे माइनिंग, एक्सट्रैक्शन, प्रोसेसिंग और GOLD मेकिंग से जुड़ी हुई हैं!

🔴4) GOLD बॉन्ड्स
असली सोने की पहचान कैसे करें – सॉवरन GOLD बॉन्ड्स स्टॉक एक्सचेंजों में लिस्टेड हैं, लेकिन इन्हें बहुत जल्दी भंजाया नहीं जा सकता! सॉवरन GOLD बॉन्ड्स के कई फायदे हैं! पहला- GOLD ETF या GOLD FUNDS की तरह इसमें कोई एक्सपेंस रेशियो नहीं है!

दूसरा- सभी सॉवरन GOLD बॉन्ड्स में 2.5 से 2.75 प्रतिशत तक का ब्याज मिलता है! इस ब्याज पर टैक्स भी लगता है! चूंकि ब्याज फेस VALUE पर दिया जाता है और चूंकि इसकी MARKET PRICE कम है, इसलिए वास्तविक रनिंग यील्ड ज्यादा (2.78 से 3.18 प्रतिशत) होता है!

इसका मतलब है कि GOLD FUNDS के मुकाबले इसका शुद्ध अतिरिक्त आय 3.78 और 4.18 प्रतिशत प्रति वर्ष हो सकता है, अगर GOLD FUNDS पर 1% का ऐनुअल एक्सपेंस रेशियो मान लें तो !

कौन-सा INVESTMENT बेहतर

असली सोने की पहचान कैसे करें – अगर आप खालिस INVESTMENT के लिहाज से GOLD लेना चाहते हैं तो बेहतर है कि इलेक्ट्रॉनिक रूप में लें! फिजिकल होल्डिंग के मुकाबले इसके कई फायदे हैं…

🔴1) कम PRICE
असली सोने की पहचान कैसे करें – GOLD ETF या ई-GOLD खरीदने में आपको सिर्फ ब्रोकरेज CHARGE देना पड़ता है! आमतौर पर यह कुल रकम का सिर्फ 0.5 फीसदी होता है! इसके अलावा ETF में हर साल फंड मैनेजमेंट CHARGE (0.5-1 फीसदी) चुकाना पड़ता है!

दूसरी ओर फिजिकल होल्डिंग में 10 से 20 फीसदी या इससे भी ज्यादा मेकिंग CHARGE चुकाना पड़ता है! साथ ही फिजिकल GOLD घर में रखने पर इंश्योरेंस जीरो रहता है!

🔴2) ट्रांसपैरंट रेट
असली सोने की पहचान कैसे करें – ETF और ई-GOLD के रेट इंटरनैशनल कीमतों से जुड़े होते हैं, जबकि फिजिकल GOLD की कीमतों में स्थानीय वजहों से भी फर्क आ जाता है!

मुमकिन है कि आप लोकल जूलर या BANK से GOLD खरीदते हैं तो वह इंटरनैशनल PRICE से ज्यादा PRICE वसूले! साथ ही, जब आप GOLD बेचने जाएंगे तो उसका कट ज्यादा हो सकता है!

🔴3) शुद्धता
असली सोने की पहचान कैसे करें – GOLD ETF और ई-GOLD में शुद्धता सबसे ज्यादा होती है और ये सर्टिफाइड भी होते हैं! लेकिन JEWELERY के मामले में आपको JEWELERS पर भरोसा करना पड़ता है!

🔴4) सहूलियत
असली सोने की पहचान कैसे करें – GOLD-ETF और ई-GOLD में आप अपने ब्रोकर को सिर्फ एक कॉल या ऑनलाइन क्लिक करके INVESTMENT कर सकते हैं, जबकि JEWELERY में आपको JEWELERS के पास जाना होगा!

🔴5) कैपिटल गेन टैक्स
असली सोने की पहचान कैसे करें – फिजिकल GOLD और ई-GOLD में 3 साल से ज्यादा होल्डिंग पर लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स लगता है! वहीं GOLD ETF के मामले में यह लिमिट 1 साल की है!

फिजिकल GOLD और ई-GOLD पर वेल्थ टैक्स लगता है, जबकि GOLD ETF को इससे छूट है! ई-GOLD भी 3 साल के बाद ही लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स के दायरे में आता है !

यदि आपको जानकरी पसंद आयी हो तो please शेयर जरूर करे ! और यदि मन में कोई सुझाव या सवाल हो तो comment जरूर करे ! और इसी तरह की जानकारियां पाना चाहते है तो notification को on जरूर करे !

                                    !! जय हिंद !!

सोने की पहचान घर पर कैसे करे सोने की पहचान कैसे की जाती है सोने और पीतल के बीच का अंतर सोना शुद्धता परीक्षण मशीन सोना पहचानने के तरीके सोना परखने वाला पत्थर का नाम सोना गलाने की विधि सोना खरीदने से पहले पीतल की पहचान पीतल और सोने की पहचान गोल्ड की पहचान कैसे करें खाद्य रसद विभाग राशन कार्ड सूची असली चांदी की पहचान sone me milawat sone ki pehchan kaise kare in hindi sona parakhne wala pathar ka naam